Monday, 26 May 2014

वक़्त अभी भी बदला नहीं!


एक आदमी ने हॉस्टल में रहने वाले पप्पू के कमरे का दरवाज़ा खटखटाया। थोड़ी देर बाद पप्पू ने दरवाजा खोला।

आदमी: क्या मैं अंदर आ सकता हूं? मैं सन 82 में इसी कॉलेज में पढ़ता था और इसी कमरे में रहता था।

पप्पू: हां, हां जरूर।

आदमी अपने कॉलेज टाइम को याद करते हुए कहने लगा, "आह, वही पुराना कमरा, वही पुराना फर्नीचर और वही पुरानी अलमारी।"

पप्पू उसे अलमारी की तरफ बढ़ने से रोकने ही वाला था कि उस आदमी ने अलमारी का दरवाजा खोल दिया।

अलमारी के अंदर पप्पू की गर्लफ्रेंड छिपी हुई थी।

पप्पू हड़बड़ा कर बोला, "सर ये मेरी कजिन (Cousin) है।

इस पर ठण्डी सांस भरते हुए वह आदमी बोला, "आह, वही पुराना बहाना।"
Unknown Web Developer

My name is Shaurya, Ceo of this site. enthustic and have passion to share Videos and creativity with this blog and provide tricks, tips and information for visitors. Thanks for visiting.

Post a Comment